काजू के तथ्य (Cashew Facts) | Top Interesting facts about cashews | Josforup

काजू के तथ्य (Cashew Facts) 


काजू के पेड़ के तथ्य(Cashew tree Facts) 
काजू को हम अंग्रेजी में Cashew कहते हैं काजू का पेड़ आम, पिस्ता अखरोट और जहर आइवी का एक करीबी रिश्तेदार है। यह पौधा ब्राजील के उत्तरपूर्वी हिस्सों से उत्पन्न होता है, जहाँ यह उष्णकटिबंधीय वर्षावनों के हिस्से के रूप में रहता है।
काजू के तथ्य (Cashew Facts) | Top Interesting facts about cashews | Josforup

काजू के पेड़ की खोज किसने की(Who discovered cashew tree)

पुर्तगाली खोजकर्ताओं की बदौलत काजू के पेड़ को दुनिया के दूसरे हिस्सों में खोजा और पहुँचाया गया।

काजू की खेती कहां प्रसिद्ध है(Where is cashew cultivation famous)
काजू (Cashew) का पेड़ भारत, वियतनाम और अफ्रीका में बहुत लोकप्रिय है और अक्सर इसकी खेती की जाती है। काजू को इसके फल - काजू (Cashew) के लिए सबसे ज्यादा जाना जाता है।


काजू का खाने के अलावा ओर प्रयोग है(Cashew is used other than food)
इसके अलावा, काजू (Cashew) के पेड़ से अलग किए गए यौगिकों में रासायनिक उद्योग, मादक पेय पदार्थों का उत्पादन और लोक चिकित्सा में प्रयोग किया जाता है।


रोचक काजू के तथ्य(Interesting Cashew tree Facts):
  • काजू (Cashew) का पेड़ उष्णकटिबंधीय सदाबहार पौधा है जो 20 से 46 फीट की ऊंचाई तक पहुंच सकता है।
  • काजू (Cashew) के पेड़ में हरे, अण्डाकार, चमड़े के पत्ते होते हैं जो शाखाओं पर सर्पिल रूप से व्यवस्थित होते हैं।
काजू के तथ्य (Cashew Facts) | Top Interesting facts about cashews | Josforup
  • काजू (Cashew)का पेड़ मल्टी-ब्रोन्चेड पुष्पक्रम में व्यवस्थित फूलों का उत्पादन करता है जिसे पैनिकल कहते हैं। वृक्ष तीन प्रकार के फूलों का उत्पादन करता है: नर, मादा और मिश्रित (ऐसे फूल जिनमें दोनों प्रकार के प्रजनन अंग होते हैं)। फूल शुरू में हरे होते हैं, लेकिन वे कुछ समय बाद लाल हो जाते हैं। चमगादड़ और कीड़े फूल के मुख्य परागणक हैं।
  • काजू (Cashew)का ऊपर का फल जिसे हम सेव कहते हैं काजू सेब खाने योग्य भी हैं। वे ज्यादातर दक्षिण अमेरिका में खाए जाते हैं, जहां लोग उन्हें कच्चा या स्वादिष्ट पेय के रूप में खाते हैं।
  • काजू (Cashew) बिना शेल(खोल) के व्यावसायिक रूप से उपलब्ध है क्योंकि इसके खोल एक यौगिक (एनाकार्डिक एसिड) होता है जो त्वचा की जलन कर करता है।
  • काजू (Cashew) के खोल से अलग किए गए एनाकार्डिक एसिड में कीटनाशक और वार्निश के उत्पादन के लिए रासायनिक उद्योग में इस्तेमाल किया जाता है।
  • काजू (Cashew) बी समूह के विटामिन और मैग्नीशियम, मैंगनीज, जस्ता, फास्फोरस, और तांबा जैसे खनिजों का एक समृद्ध स्रोत हैं। इनमें उच्च स्तर के मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड भी होते हैं, जो मानव स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।
  • काजू (Cashew) को आमतौर पर नाश्ते के रूप में, या मक्खन के रूप में कच्चा खाया जाता है। इसके अलावा, काजू भारतीय, चीनी और थाईलैंड के व्यंजनों में विभिन्न मीठे और नमकीन व्यंजनों का एक अभिन्न हिस्सा है।
  • वसा की उच्च सामग्री के कारण, आसानी से कमरे के तापमान पर बासी हो जाते हैं। इसलिए उन्हें फ्रिज में संग्रहित किया जाना चाहिए।
  • नवीनतम चिकित्सा अध्ययनों के अनुसार, काजू (Cashew) पित्त पथरी के विकास को रोक सकता है और हृदय रोगों के जोखिम को कम कर सकता है। वे मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद साबित होते हैं।
  • काजू (Cashew), कई अन्य प्रकार के नट्स की तरह, संवेदनशील व्यक्तियों में एक गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया को ट्रिगर कर सकता है।
  • दुनिया के कुछ हिस्सों में सर्पदंश(snakebites) के उपचार में काजू (Cashew) का उपयोग किया जाता है।
  • दुनिया में काजू (Cashew) का सबसे बड़ा उत्पादक नाइजीरिया है। यह सालाना 1.9 मीट्रिक टन से अधिक काजू का उत्पादन करता है
  • काजू (Cashew) का पेड़ 30 वर्षों से अधिक समय तक जीवित रहने और नट्स का उत्पादन करने में सक्षम है।

 हमारा आर्टिकल कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताएं।

Comments

Andy said…
Very nice
Aman Deep said…
thank you
admin said…
great article brother keep it up
Aman Deep said…
thank you
Dharamraj kumar said…
अदभुत👍
Aman Deep said…
धन्यवाद धर्मराज कुमार हमारी वेबसाइट पर ऐसे तथ्य आप और पढ़ सकते हैं आप चाहे तो हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं अपनी ईमेल आईडी डाल कर
कुछ नया सीखे